Home देश टिहरी और नैनीताल में बादल फटा, चुरू में पारा 50 के करीब

टिहरी और नैनीताल में बादल फटा, चुरू में पारा 50 के करीब

60
0

नई दिल्ली। उत्तर भारत के कई हिस्सों में शुक्रवार को बारिश ने राहत दी लेकिन दिल्ली और राजस्थान में सूरज की तपन जारी रही। चुरू में पारा 50 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया। उत्तराखंड में कुमाऊं के नैनीताल और गढ़वाल के टिहरी जिले में बादल फटने से नदी-नाले उफान पर आ गए। शुक्रवार को उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में हुई जोरदार बारिश से कई जगह सड़कों पर मलबा आ गया।

नैनीताल और गढ़वाल के टिहरी जिले में बादल फटने से कई जगह खेतों में मलबा भरने के साथ ही घरों में भी पानी घुस गया। पिथौरागढ़ में गोरी नदी में आए उफान से स्थानीय गांवों को जोड़ने वाला मार्ग बंद हो गया। मलबा आने से बद्रीनाथ हाईवे करीब आठ घंटे बंद रहा। टिहरी के भिलंगना क्षेत्र में बादल फटने से बरसाती नदी-नाले उफना गए। पौड़ी के थलीसैंण क्षेत्र में दो गोशाला बह गईं। इसमें चार मवेशियों की मौत हो गई।

उत्तरकाशी में यमुनोत्री के प्रमुख पड़ाव बड़कोट के पास उफनती बरसाती नदी को पार करते हुए माता-पिता और आठ साल की बच्ची बह गई, माता-पिता को बचा लिया गया, लेकिन बच्ची को पता नहीं चल पाया है। दूसरी ओर कुमाऊं में नैनीताल जिले के बेतालघाट ब्लॉक में बादल फटने से कटमी गजार गांव में खासा नुकसान हुआ। चार धाम यात्रा सुचारू उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली के जिलाधिकारियों ने कहा कि मौसम के कारण चार धाम यात्रा मार्गों पर चिंता जैसी स्थिति नहीं है।

उत्तरकाशी के जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान ने कहा कि गंगोत्री और यमुनोत्री मार्ग पूरी तरह से खुले हुए हैं। चमोली के जिलाधिकारी ने कहा कि बद्रीनाथ मार्ग गुरुवार देर रात बंद हुआ था, जिसे सुबह बहाल कर लिया गया है। शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश में भी बारिश हुई। श्रीगंगानगर में पारा 49.1 डिग्री रहा जो सामान्य से सात डिग्री अधिक है। बीकानेर में 49.7, जैसलमेर में 46.7 और पिलानी में 46.1 डिग्री पारा रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here