रायबरेली : दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री और आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती को अमेठी में गिरफ्तार कर लिया गया है। यहां पर वो पुलिस की टीम के साथ बातचीत कर रहे थे, इसी दौरान उनके ऊपर एक युवक ने काली स्याही फेंकी। सिर्फ स्याही ही नहीं फेंकी गई बल्कि उनके खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी खूब लगे। इस दौरान सोमनाथ की पुलिस के अधिकारियों के साथ नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने स्याही फेंकने वाले को गिरफ्तार कर कोतवाली ले गई है। जिस लड़के ने सोमनाथ भारती पर स्याही फेंकी थी उससे पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि सोमनाथ भारती अपनी बैठक में आपत्तिजनक बातें कह रहे थे। वहीं अमेठी के जगदीशपुर थाना के इंचार्ज राजेश सिंह ने बताया कि सोमनाथ भारती को उनके उत्तर प्रदेश के अस्पतालों पर दिए गए विवादित बयान को लेकर गिरफ्तार किया गया है। उनके खिलाफ जगदीशपुर कोतवाली में धारा 505 और 153 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। इन्होंने जगदीशपुर में विवादित और भड़काऊ भाषण दिया था। इनके खिलाफ समाजिक कार्यकर्ता सोमनाथ साहू ने मुकदमा दर्ज कराया था। इसी कारण इन्हें गिरफ्तार किया गया है। जगदीशपुर पुलिस सोमनाथ भारती को रायबरेली से गिरफ्तार कर अमेठी के लिए रवाना हो गई है। सोमनाथ भारती ने इसे भाजपाइयों की कारस्तानी बताया और कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए। आप विधायक सोमनाथ भारती जिला पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के लिए आए थे। उन्हें सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस में रोका गया था। आम आदमी पार्टी के संयोजक तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव में अपने प्रत्याशी मैदान में उतारने की घोषणा के बाद से पार्टी उत्तर प्रदेश में बेहद सक्रिय है। गिरफ्तारी के बाद सोमनाथ भारती को फुरसतगंज थाने ले जाया गया। हालांकि, कुछ ही देर बाद उन्हें अज्ञात स्थान की ओर ले जाया गया। फुरसतगंज एसओ का कहना है कि पूर्व मंत्री को यहां नहीं रखा गया है। उधर अमेठी जिले के आम आदमी पार्टी प्रभारी हितेंद्र सिंह का कहना है कि वह गिरफ्तारी के बाद पीछे लगे हुए थे लेकिन पुलिस ने उनको गुमराह कर दिया और पूर्व मंत्री को अब कहीं और ले जाया गया है। हालांकि, सोमनाथ भारती ने अपने बयान पर सफाई दे दी थी। उन्होंने कहा था कि उनके बयान में छिपे कटाक्ष को समझते हुए प्रदेश सरकार अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाए। आम आदमी पार्टी प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव में खुद को स्थापित करने की कवायद में जुटी है। इसके लिए सोमनाथ भारती को प्रयागराज व रायबरेली के अलावा अमेठी का प्रभार दिया गया है। प्रभार मिलने के बाद शनिवार को पहली बार अमेठी आए सोमनाथ ने देर शाम दिए गए एक विवादित बयान में कहा था कि प्रदेश के अस्पतालों में बच्चे तो पैदा हो रहे हैं लेकिन कुत्ते के बच्चे पैदा हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब मैं प्रयागराज के अस्पताल में गया तो वहां मुझे सिर्फ कुत्ते और उसके बच्चे दिखाई दिए। इससे पहले स्याही फेंकने के बाद भी जब सोमनाथ पुलिस से बात कर रहे थे तो वे काफी गुस्से में नजर आ रहे थे और पुलिस से कह रहे थे कि ‘योगी की मौत सुनिश्चित’ है। सोमनाथ भारतीय के साथ जो कार्यकर्ता खड़े थे उनमें से कई ने आरोप लगाया है कि पुलिस की मिलीभगत से यह काम किया गया है। भारतीय जनता पार्टी ने सोमनाथ भारतीय के बयान का वह वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री योगी को लेकर आपत्तिजनक बात कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here