नई दिल्ली|जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेछ 370 हटने के बाद जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव हो रहे हैं। इसके लिए राजनीतिक दल जोरों शोरों से चुनाव प्रचार कर रहे हैं। चुनाव में शामिल होने के लिए युवाओं की जिस तरह से हिस्सेदारी सामने आई है उसका एक नजारा आज डल झील में देखने को मिला। रविवार को श्रीनगर के डल झील में बीजेपी की ओर से शिकारा रैली निकाली गई। इस रैली में भारी संख्या में कश्मीर के लोगों ने हिस्सा लिया। शिकारा रैली की कुछ फोटो भी सामने आईं हैं जिसमें आप देख सकते हैं कि घाटी में हो रहे चुनाव में किस तरह से लोगों ने अपनी सहभागिता दिखाई है। कश्मीर घाटी में कड़कड़ाती ठंड के बावजूद  यहां के लोग रविवार को जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव के छठे चरण में  अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए कतारों में लगे दिखाई दिए। आधिकारिक प्रवक्ता के मुताबिक छठे चरण में 14 जिला विकास परिषदों के लिए हो रहे चुनाव में 124 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। इन उम्मीदवारों में 47 महिलाएं भी शामिल हैं। छठे चरण में 2,000 मतदान केंद्रों पर करीब 7.5 लाख मतदाता मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। पहले चरण का मतदान 28 नवंबर को हुआ था। डीडीसी चुनाव के लिए शिकारा रैली के दौरान बीजेपी नेता और राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि जम्मू कश्मीर के युवाओं ने बंदूक और गोलियों से दूर चुनाव में हिस्सा लेने का फैसला किया है। जब उन्हें एहसास हुआ कि अब्दुल्ला और मुफ्ती परिवार केवल अपने स्वयं के बंगले बनाने की दिशा में काम करते रहे। डीडीसी चुनाव को लेकर बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि भाजपा पार्टी यहां चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ रही है। जो लोग कहते थे कि यहां कोई तिरंगा उठाने वाला नहीं मिलेगा। आप देखिए यहां तिरंगा भी है और उसे लहराने वाले भी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here