भोपाल : कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्यक्रम भोपाल के 12 सेंटर पर शुरू हो गया। सुबह सवा 11 बजे भोपाल के हमीदिया अस्पताल में पहला टीका वार्डबॉय संजय यादव को लगा। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी मौजूद रहे। दूसरी तरफ भोपाल में वैक्सीनेशन कार्यक्रम सुबह 10:30 बजे तय था, लेकिन स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी के जेपी अस्पताल में नहीं पहुंचने के कारण कार्यक्रम देर से शुरु हुआ था। आखिरकार लंबे इंतजार के बाद 11:45 पर स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी जेपी अस्पताल पहुंचे थे। उसके बाद वहां वैक्सीनेशन कार्यक्रम शुरु हुआ। दुखी मन से हरिदेव ने भी वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगवाने के बाद हरिदेव ने कहा कि सिस्टम देश को आगे नहीं बढ़ने देगा। दूसरी तरफ हमीदिया अस्पताल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वैक्सीनेशन कार्यक्रम में शामिल हुए। इस मौके पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभु राम चौधरी और वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा भी मौजूद थे। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में हमीदिया अस्पताल के वार्डब्यॉय संजय यादव को कोरोना का पहला वैक्सीन लगाया गया। ​​​वैक्सीन लगवाने वाले वार्ड बॉय संजय यादव ने सीएम श्री चौहान का अभिवादन किया। इस दौरान कक्ष में ड्यूटी पर डॉ. एके उपाध्याय के साथ स्टाफ नर्स उषा किरण और एएनएम शकुन उपस्थित थी। कक्ष 2 में डॉ एस के त्रिवेदी के साथ स्टाफ नर्स प्रीति पगारे और एएनएम प्रतिभा सिंह ड्यूटी पर थी । यहां डॉ अजय गोयनका ने टीका लगवाया। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान भी उपस्थित थे। हमीदिया अस्पताल में वैक्सीनेशन कार्यक्रम के शुभारंभ पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज से वैक्सीनेशन प्रारंभ हुई है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देना चाहता हूं। मोदी जैसा कोई नहीं। मोदी है तो मुमकिन है। ये उनके दूरदर्शी नेतृत्व के कारण संभव हो सका। कि स्वदेशी वैक्सीन आज भारतवासियों को लगवाने का अभियान शुरु हुआ। पहले चरण में मेडिकल कोरोना वॉरियर्स को लगाए जा रहा है। दूसरे चरण में फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगाया जाएगा। तीसरे चरण में जिसकी बाद में घोषणा की जाएगी। जिनकी उम्र 50 साल या इससे ज्यादा है या जिन्हें एक से ज्यादा बीमारी है, उनको लगाया जाएगा। आज जिनको वैक्सीन लग रही है। वैक्सीन लगाने के बाद आधे घंटे टीका लगने वाले व्यक्ति को निरीक्षण में रखा जाएगा। मैं प्रदेशवासियों से अपील करना चाहता हूं कि दोनों वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। एंटीबॉडीज बनाने में समर्थ है। लेकिन पहला डोज लगने के 28 दिन बाद दूसरा डोज लगेगा। दूसरे डोज के 14 दिन बाद एंटीबॉडी विकसित होगी। वैक्सीन लगने के बाद पहलवान न बने। मास्क लगाएं, सारे प्रोटोकॉल का पालन करें। मेरा सारे सारे राजनीतिक दल और ग़ैर राजनीतिक दल से निवेदन है कि कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर किसी तरह का भ्रम नहीं फैलाएं।
पहले फेज में पहली खुराक देने के लिए पहले सप्ताह में 16 से 22 जनवरी के बीच 150 चिन्हित सेशन साइट पर उच्च शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं (डीएच, सीएच, सीएचसी) से जुड़े 57 हजार स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा। दूसरे सप्ताह 23 से 30 जनवरी तक 50 हजार 715 केंद्रीय और निजी स्वास्थ्यकर्मियों का चिन्हित 172 सेशन साइट पर टीकाकरण होगा।
तीसरे सप्ताह 31 जनवरी से 6 फरवरी तक शेष रहे 55 हजार सरकारी व निजी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का कुल 200 चिन्हित सेशन साइट पर टीकाकरण होगा। चौथे सप्ताह में 7 से 13 फरवरी तक छूट गए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को कवर करने के लिए मॉपअप गतिविधि संचालित होगी। इसमें कुल 200 साइट पर 55 हजार स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण का लक्ष्य है। राज्य के लिए कोवीशील्ड वैक्सीन मिली हैं। भोपाल में 94 हजार, इंदौर में एक लाख 52 हजार, जबलपुर में एक लाख 51 हजार और ग्वालियर में एक लाख 9 हजार 500 डोज दिए जा चुके हैं।
यह होगी प्रक्रिया
चरणबद्ध सत्र कार्य-योजना में प्राथमिक समूह के पहले फेज में 4 लाख स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं। सरकारी और निजी स्वास्थ्यकर्मी और महिला-बाल विकास विभाग की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं। इसके बाद फेज-1 में फ्रंट लाइन वर्कर्स, जिनकी संख्या करीब 4 लाख है। इनमें रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय, नगरीय विकास मंत्रालय, पुलिस और राजस्व विभाग के कर्मचारी शामिल हैं। इसके बाद फेज-1 के प्राथमिकता समूह में प्राथमिकता ग्रुप है, जिसमें करीब 1.7 करोड़ 50 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे लोग शामिल हैं, जिन्हें गंभीर बीमारियां जैसे डायबिटीज, बीपी आदि हैं, उनका टीकाकरण होगा।
यहां होगा पहले फेज का टीकाकरण
वैक्सीन सेंटर रजिस्टर्ड हेल्थ वर्कर्स
एम्स अस्पताल 3404
चिरायु मेडिकल कॉलेज 2158
जेपी अस्पताल 1611
हमीदिया कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर 1598
भोपाल मेमोरियल अस्पताल 1538
जवाहरलाल नेहरु अस्पताल 895
सुल्तानिया अस्पताल 852
बैरसिया कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर 806
गांधी नगर कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर 778
पंडित खुशीलाल शर्मा आयुर्वेदिक महाविद्यालय 546
गांधी मेडिकल कॉलेज और हमीदिया अस्पताल 546
बैरागढ़ सिविल अस्पताल 482

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here