ऑटो डेस्क : केंद्र सरकार ने टोल प्लाजा पर फास्टैग से भुगतान की समय सीमा को एक दिसंबर से आगे बढ़ा दिया है। अब 15 दिसंबर तक लोग टोल प्लाजा पर कैश से भुगतान कर सकेंगे। हालांकि मुफ्त फास्टैग मिलने की अंतिम तारीख को आगे नहीं बढ़ाया गया है। यह पहले की तरह 30 नवंबर तक ही मिलेगा। इस समय एनएचएआई के नेटवर्क में कुल 537 टोल प्लाजा है। इनमें से 17 को छोड़ कर शेष टोल प्लाजा के लेन आगामी 30 नवंबर तक फास्टैग से लैस हो जाएंगे। शेष टोल प्लाजा अभी बन ही रहे हैं इसलिए वहां इलेक्ट्रानिक तरीके से टोल वसूली की सुविधा नहीं लग पाई है।
एनएचएआई के पीओएस पर ही मुफ्त मिलेगा
उन्होंने बताया कि इस समय फास्टैग बेचते समय 150 रुपये का सिक्योरिटी डिपोजिट लिया जाता है। मगर इसे बढ़ावा देने के लिए एनएचएआई इसे नि:शुल्क देगी। मतलब इसे लेने वालों को 150 रुपये नहीं चुकाने होंगे। हालांकि मुफ्त में फास्टैग सिर्फ एनएचएआई के प्वाइंट ऑफ सेल -पीओएस- पर ही मिलेगा। बैंक से यदि इसे खरीदते हैं तो ग्राहकों को पूरा शुल्क चुकाना होगा।
अगले महीने से लगेगा दोगुना शुल्क
सरकार ने तय किया है कि अगले महीने से उन वाहन मालिकों को इलेक्ट्रॉनिक टोल लेन में घुसने पर दो बार टोल चुकाना होगा, जिनकी गाड़ी पर फास्टैग नहीं लगा होगा। उस समय सभी टोल प्लाजा के सभी लेन इलेक्ट्रॉनिक होंगे, इसलिए फास्टैग अनिवार्य होगा।
टोल प्लाजा पर फ्री में गुजर सकेंगे वाहन
NHAI के मुताबिक अगर किसी टोल पर RFID स्कैनर में कोई खराबी है और फास्टैग को स्कैन नहीं कर पा रहा है, तो इसके लिए वाहन चालक को कोई कोई पैसा नहीं चुकाना होगा और उसे फ्री में जाने की इजाजत दी जाएगी। इसके लिए टोल प्लाजा को निर्देश दिए गए हैं। साथ ही उन्हें टोल पर बोर्ड लगाने के लिए भी कहा गया है, जिससे जागरुकता फैलाई जा सके।
क्या कहता है नियम
अगर आप टोल प्लाजा से गुजरते हैं और RFID स्कैनर मशीन में खराबी है, और वह गाड़ी में फास्टैग को स्कैन नहीं कर पाता है तो और टोल प्लाजा का गेट नहीं खुलता है, तो नेशनल हाईवे फी रूल्स के मुताबिक टोल प्लाजा संचालक बिना टोल के ही जाने देगा। साथ ही वह मैनुअल तरीके जीरो फीस की रसीद भी काटेंगे, ताकि उस गाड़ी का रिकॉर्ड दर्ज हो जाए। वहीं, अगर आपकी गाड़ी पर Fastag नहीं लगा है और आप टोल प्लाजा पर Fastag लेन से निकलना चाह रहें, तो आपको दोगुनी राशि चुकानी होगी। हालांकि, टोल प्लाजा पर एक लाइन बिना Fastag वाहनों के लिए भी होगा और इससे सामान्य टैक्स वसूला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here