भोपाल. भोपाल में 62 दिन बाद बुधवार से बाजार गुलजार हो गए। शर्तों के साथ अलग-अलग मार्केट आज से खुल गईं। बाजार खुलने का समय सुबह 11:00 से शाम को 5:00 बजे तक रखा गया है। सुबह न्यू मार्केट में व्यापारी अपनी दुकान खोलने के लिए पहुंचे। व्यापारियों को दुकान जमाने के लिए 2 घंटे लग गए। इसके पहले नगर निगम कर्मचारियों ने पूरे न्यू मार्केट की दुकानों को स्प्रे से सैनिटाइज किया। दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोल घेरे भी बनाए गए हैं और हर एक दुकानदार ने अपने यहां सैनिटाइजर भी रखा हुआ है। वह ग्राहकों को सैनिटाइज करने के बाद ही सामान दे रहे हैं। पहले दिन न्यू मार्केट में लोगों की संख्या कम दिखाई दी। दो महीने बाद बाजार खुलने से लोग खुश दिखाए दिए। न्यू-मार्केट में पहुंचे लोगों ने खरीदारी की और आराम से घूमते-फिरते भी दिखाई दिए। न्यू मार्केट पहुंचे व्यापारी ने खुद को नगर निगम के कर्मचारी द्वारा स्प्रे कराकर सैनिटाइज किया। इसके बाद उन्होंने दुकानें खोलीं। व्यापारी ने बताया कि कोरोना अभी चल रहा है, लेकिन अब कब तक घर में बैठे रहे हैं। सावधानियों के साथ दुकानें तो खोलनी पड़ेगीं। व्यापारी ने कहा कि दुकानें खोलने का निर्णय सही है, दो महीने हो गए, लोगों को भी परेशानी हो रही थी और हमें भी भारी घाटा हुआ है। न्यू मार्केट में बाजार खुला तो व्यापारी कुणाल ने निगम कर्मचारी से खुद को सैनिटाइज करा लिया।
सुबह 11 से शाम 5 बजे तक दुकानें खोलने की अनुमति
कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने भोपाल में धारा 144 के अंतर्गत संशोधित आदेश जारी कर लॉक-डाउन में शहर को तीन सेक्टर में बांट कर मार्केट को दिन और समान आधार पर बुधवार 27 मई से सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक दुकानें खोलने की अनुमति दी है। न्यू मार्केट में दुकानें खुल गईं, भोपाल में बाजार को तीन क्लस्टर में बांटा गया है।
25 मार्च को लागू लॉकडाउन के साथ ही बंद हो गए थे बाजार
25 मार्च से बंद भोपाल के सभी बाजार शर्तों और नए नियमों के साथ बुधवार से खुल जाएंगे। मंगलवार को जिला प्रशासन ने व्यापारियों और पुलिस से चर्चा के बाद तैयार प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने बताया कि शहर को तीन क्लस्टर में बांटा गया है। पीडब्ल्यूडी, नगर निगम, राजधानी परियोजना और अनुमति लेकर काम करने वाले बिल्डर कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर निर्माण कार्य कर सकेंगे, लेकिन निर्माण श्रमिकों को कंस्ट्रक्शन साइट अथवा उसके नजदीक ही ठहराने की व्यवस्था कंस्ट्रक्शन एजेंसी को करना होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here