नई दिल्ली : महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना का बुधवार को दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया है। माराडोना का दिल का दौरा घर पर पड़ा था। माराडोना का 60वें जन्मदिन के कुछ दिन बाद मस्तिष्क में संभावित रक्तस्राव के लिये सफल आपरेशन किया गया। माराडोना जो अब तक के सबसे महान फुटबॉलरों में से एक माने जाते हैं उन्होंने 1986 में अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप जीताने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने बोका जूनियर्स, नापोली और बार्सिलोना के अलावा कई क्लब के लिए फुटबॉल खेली है। माराडोना के उस ऑपरेशन के बारे में बताते हुए उनके निजी चिकित्सक लियोपोल्डो लुके ने कहा था,‘‘माराडोना को सबड्यूरल हेमेटोमा था, जिसका मतलब एक झिल्ली और मस्तिष्क के बीच रक्त जमा होना है।’’ पेश के न्यूरोलोजिस्ट लुके ने कहा कि यह समस्या संभवत: एक दुर्घटना की वजह से हुई लेकिन माराडोना ने कहा कि उन्हें ऐसी कोई घटना याद नहीं थी। ऑपरेशन के 8 दिन बाद माराडोना को 11 नवंबर को अस्पताल से छुट्टी मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here