नर्इ दिल्ली। देश के मुख्य आर्थिक सलाहकर अरविंद सुब्रमण्यम ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सुब्रमण्यम ने अपने अपने निजी कारणों का हवाला देते हुए अपना इस्तीफा वित्त मंत्री अरुण जेटली को भेजा है जिसे वित्त मंत्री ने स्वीकार लिया। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम अक्टूबर माह में अमरीका लौट अाएंगे।

जेटली ने कहा-मेरे पास इस्तीफा स्वीकारने के अलावा आैर कोर्इ विकल्प नहीं था
जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, “कुछ दिन पहले मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम ने मुझे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर मुलाकात की। उन्होंने मुझे बताया कि वह परिवार प्रतिबद्धताओं को दबाए रखने के कारण संयुक्त राज्य अमेरिका वापस जाना चाहेंगे। उनके कारण निजी थे लेकिन उनके लिए बेहद महत्वपूर्ण थे। उनके इस कारण के वजह से मेरे पास सहमत होने के अलावा आैर कोर्इ विकल्प नहीं था।”

पूरा हो चुका था तीन साल का कार्यकाल
आपको बता दें कि सुब्रमण्यम ने 16 अक्टूबर 2014 में तीन साल के लिए अपना कार्यभार संभाला था। जेटली ने अपने पोस्ट में आगे कहा कि, उनके कार्यकाल के तीन साल पूरे हाेने पर मैने उनसे कुछ आैर समय तक अपने पद पर बने रहने का अनुरोध किया था। उन्होंने मुझे उस समय भी अपने पारिवारिक प्रतिबद्धताआें को कारण बताया था। उन्होनें हमेशा वित्त मंत्रालय आैर प्रधानमंत्री कार्यालय में आैपचारिक आैर अनौपचारिक दोनों रूप में हमेशा उपस्थित रहते थे।

जेटली ने कहा- अरविंद सुब्रमण्यम को हम मिस करेंगे
जेटली ने अपने पोस्ट के अंत में कहा कि हम उनके उर्जा, काबिलियत, बुद्धिमता आैर अाइडिया को मिस करेंगे। वो मेरे केबिन में दिन में कर्इ बार आते थे आैर मुझे ‘मंत्री जी’ कहकर संबोधित करते थे। ये कहने की बात नहीं है कि उनके विभाग को मिस करूंगा । मुझे इस पर पूरा यकीन है कि वो आगे भी अपना सलाह हमें भेजते रहेंगे। मैं अरविंद सुब्रमण्यम आैर उनके परिवार को ढेर सारी शुभकामनाएं देता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here