भोपाल। इन दिनों मध्यप्रदेश सरकार वित्तीय संकट से जूझ रही है। जिसके चलते चुनावी साल में सरकार की हालत खराब होती नजर आ रही है। यही कारण है कि सीएम द्वारा की गई तमाम घोषणाएं भी वक्त पर पूरी होती नजर नहीं आ रही हैं। जानकारी के अनुसार भविष्य में भी सरकार कई नए फैसले करने वाली है। इसी के तहत चर्चा करने के लिए सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव एंव सभी सचिव स्तर के सभी लोगों को बुलाया गया है। ताकि इन समस्याओं का कुछ हल निकल सके।

आपको बता दें कि अभी तक सरकार लगभग 60 हजार करोड़ से ज्यादा की घोषणाओं का ऐलान कर चुकी हैं, उनमें से कुछ घोषणाएं ऐसी है जिनका क्रियान्वयन करना चुनाव से पहले जरूरी है। पर, इस समय राज्य की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है, जिसके चलते सरकार के सामने, घोषणाओं को पूरा करने का सबसे बड़ा संकट है। कुछ घोषणओं पर काम चालू है, तो कुछ अभी पूरी होना बाकी है। पर, वित्तीय स्थिति ठीक न होने के चलते कई घोषणाएं प्रभावित होने लगी है।

आने वाले विधान सभा चुनावों के पहले सराकर अपनी सभी घोषणाओं को पूरा करना चाहती है। जिससे आगे भी वह अपनी जीत का डंका कायम रख सके। जानकारों के अनुसार आगामी रणनीति एंव योजनाओं को पूरा करने के लिए, मुख्यमंत्री चौहान सोमवार को सभी सचिव, अपर सचिव और प्रमुख सचिव स्तर के अफसरों से चर्चा करेंगे। चर्चा के दौरान शिवराज सिंह चौहान उन योजनाओं की सूची लेकर बैंठेगे जिनका क्रियान्वयन किया जाना है। साथ ही बैठक में मुख्यमंत्री राज्य से संबंधित अन्य मसलों पर भी चर्चा करेंगे। जिसके चलते सभी अफसरों को सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से सूचित कर दिया गया है कि 9 जुलाई को बैठक है, इस बैठक में सभी अफसर सुबह 11 बजे शामिल रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here