नई दिल्ली : भारत में विदेशी नागरिकों सहित कोरोना वायरस महामारी से संक्रमित होने वालों की संख्या सोमवार (27 अप्रैल) को बढ़कर 28,380 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को जारी आंकड़ों में कहा कि देश में कोविड-19 संक्रमण के चलते 886 मौतें हुई हैं और वर्तमान में कुल 21,132 व्यक्ति महामारी से संक्रमित हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1463 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 60 लोगों को इस वायरस की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी है। पिछले 24 घंटों में कोरोना से संक्रमित 381 लोगों के स्वस्थ होने के साथ ऐसे लोगों की संख्या 6362 (1 माइग्रेटेड) पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार (27 अप्रैल) जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस का प्रकोप देश के 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैल चुका है। कोविड-19 से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में अब तक 342 मौतें हुई हैं, जबकि मध्यप्रदेश में 106 लोगों को इस वायरस ने लील लिया है। वहीं, गुजरात में संक्रमण के चलते 151 और उत्तर प्रदेश व दिल्ली में क्रमशः 31 और 54 लोगों की जान गई है।” कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक मामले 8068 महाराष्ट्र से ही आए हैं। इसके बाद 3301 मामलों के साथ गुजरात दूसरे, जबकि 2918 मामलों के साथ दिल्ली तीसरे स्थान पर है। इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज जोर देकर कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए पूर्णबंदी का कदम कारगर रहा है, लेकिन देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए राज्यों को ‘दो गज दूरी’ के मंत्र को ध्यान में रखते हुए इससे बाहर निकलने की चरणबद्ध योजना पर काम शुरू करना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना का खतरा लंबा चलने की आशंका है इसलिए अब सबको कोरोना से निपटने के साथ साथ अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के बारे में भी योजना बनाकर उसे अमल में लाना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here