भोपाल : कोरोना टीकाकरण के लिए भोपाल के 70 अस्पतालों में करीब 100 केन्द्र बनाए जाएंगे। पहले चरण में इन केन्द्रों पर 30 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा। टीका लगाने की शुरुआत 16 जनवरी से होगी। करीब पांच दिन में टीकाकरण पूरा होने की उम्मीद है। हर केन्द्र में टीका लगाने वाले एक कर्मचारी समेत पांच लोग होंगे। टीका लगवाने के लिए उसी दिन या एक दिन पहले एसएमएस मिल जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि कर्मचारियों को ज्यादा दूर नहीं जाना पड़े और टीकाकरण जल्दी हो सके इसके लिए ज्यादा से ज्यादा अस्पतालों में टीकाकरण बूथ बनाए जा रहे हैं। पहले करीब 53 बूथ बनाने की तैयारी थी, लेकिन स्वास्थ्य कर्मियों की सुविधा के लिए लगभग दोगुने बूथ बनाए जा रहे हैं। हमीदिया अस्पताल में दो, टीबी अस्पताल में दो और सुल्तानिया अस्पताल में एक बूथ बनाया जाएगा। इसके अलावा एम्स, जेपी अस्पताल और बड़े निजी अस्पतालों को टीकाकरण केन्द्र बनाया जाएगा। पंजीयन के समय जमा किए दस्तावेज लेकर जाएं : जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. कमलेश अहिरवाार ने बताया कि टीकाकरण के लिए चिन्हित स्वास्थ्यकर्मियों का कोविन पोर्टल पर पहले ही पंजीयन किया जा चुका है। पंजीयन के वक्त उन्होंने जो दस्तावेज दिखाए हैं, वहीं दस्तावेज लेकर जाना होगा। जिन्होंने आधार कार्ड के जरिए पंजीयन कराया है उनके सत्यापन के लिए आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर एसएमएस भेजा जाएगा। ऐसे में सत्यापन के लिए अपडेट मोबाइल नंबर होना जरूरी है। उन्होंने बताया कि कोविन पोर्टल पर टीकाकरण सत्र आयोजित किया जाएगा। इसके साथ ही टीकाकरण के लिए चिन्हित स्वास्थ्यकर्मी के पास संदेश पहुंचेगा। इसमें यह बताया जाएगा कि टीकाकरण के लिए किस बूथ पर पहुंचना है। टीकाकरण का समय सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक होेगा। एक दिन पहले एसएमएस भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here