भोपाल|मध्यप्रदेश में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 456 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 2,50,009 तक पहुंच गई। राज्य में पिछले 24 घंटों में इस बीमारी से छह और व्यक्तियों की मौत की पुष्टि हुई है जिससे मरने वालों की कुल संख्या 3,732 हो गई है। मध्यप्रदेश के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया, ”पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से इन्दौर व जबलपुर में दो-दो तथा भोपाल एवं ग्वालियर में एक-एक मौत की पुष्टि हुई है।” उन्होंने बताया, ”राज्य में अब तक कोरोना वायरस से सबसे अधिक 912 मौत इंदौर में हुई हैं, जबकि भोपाल में 593, उज्जैन में 104, सागर में 149, जबलपुर में 247 एवं ग्वालियर में 214 लोगों की मौत हुई हैं। बाकी संक्रमितों की मौत अन्य जिलों में हुई हैं।” अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में बुधवार को कोविड-19 के 89 नये मामले इंदौर में आए, जबकि भोपाल में 95 नए मामले आए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कुल 2,50,009 संक्रमितों में से अब तक 2,38,983 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गए हैं तथा 7,294 मरीज़ों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। उन्होंने कहा कि बुधवार को 655 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई।
16 जनवरी से शुरू होगा टीकाकरण अभियान
दूसरी ओर, देश में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकारकरण अभियान शुरू होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने शनिवार को यह घोषणा की। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन से जुड़े विभिन्न पहलुओं की विस्तृत समीक्षा की। बयान में कहा गया, ”आगामी लोहड़ी, मकर संक्रांति, पोंगल और माघ बिहू जैसे त्योहारों के मद्देनजर विस्तृत समीक्षा के बाद फैसला लिया गया कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से आरंभ किया जाएगा।”
कोरोना वॉरियर्स को दी जाएगी प्राथमिकता
कोविड-19 टीकाकरण अभियान में करीब तीन करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों को प्राथमिकता दी जाएगी। बयान में कहा गया कि इसके बाद 50 वर्ष से अधिक आयु के करीब 27 करोड़ व्यक्तियों और अन्य बीमारियों से ग्रसित 50 वर्ष से कम आयु के व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा। एक डिजिटल टीका आपूर्ति प्रबंधन प्रणाली टीके के भंडार, भंडारण तापमान, लाभार्थियों के संबंध में जानकारी देगा तथा डिजिटल प्लेटफार्म स्वत: सत्र आवंटित करने, सत्यापन और टीकाकरण के बाद व्यक्तियों को प्रमाणपत्र प्रदान करने में मदद करेगा। बैठक के दौरान प्रधानमंत्री को देश भर में टीकाकरण अभियान को लेकर तीन चरणों में किए गए पूर्वाभ्यास के बारे में भी अवगत कराया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here