भोपाल। मध्य प्रदेश में बर्ड फ्लू का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है, नौ और जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि के साथ राज्य के 27 जिलों के पक्षियों में बर्ड फ्लू पाया जा चुका है। वहीं हरदा जिले के रहटगांव की पोल्ट्री में बर्डफ्लू एच5एन8 वायरस की पुष्टि हुई है। बताया गया है कि हरदा जिले के रहटगांव की पोल्ट्री में बर्डफ्लू एच5एन8 वायरस की पुष्टि हुई है। राज्य शासन ने बर्डफ्लू से प्रभावित स्थान से एक किलोमीटर की परिधि में कुक्कुट किलिंग (मारना), अण्डे, चारा, दाना आदि नष्ट करने के निर्देश दिये हैं। इस परिधि की साफ-सफाई के साथ इसे सेनिटाइज और डिसइनफेक्ट भी किया जायेगा। प्रभावित स्थल से एक से नौ किलोमीटर की परिधि को सर्विलांस क्षेत्र में शामिल करते हुए सैम्पल लेने की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। प्रभावित क्षेत्र में अगले तीन माह तक कुक्कुट उत्पाद की रीस्टाकिंग और कुक्कुट परिवहन पर प्रतिबंध रहेगा। इसके अलावा भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान ने नौ जिलों हरदा, बुरहानपुर, राजगढ़, डिण्डोरी, छिंदवाड़ा, मण्डला, सागर, धार और सतना में भी कौओं में बर्डफ्लू की पुष्टि हुई है। पशुपालन मंत्री प्रेमसिंह पटेल ने भारत शासन के द्वारा जारी एडवाइजरी के अनुसार सभी प्रभावित जिलों में एवियन इनफ्लूएंजा से बचाव, रोकथाम और नियंत्रण के उपाय करने के निर्देश दिये हैं। पशु चिकित्सा अधिकारियों से पोल्ट्री एवं पोल्ट्री उत्पाद बाजार, फार्म, जलाशयों एवं प्रवासी पक्षियों पर विशेष निगरानी रखने के साथ मुर्गियों का नियमित सर्विलांस करने के निर्देश दिये गये हैं।प्रदेश में अब तक इंदौर, आगर-मालवा, मंदसौर, नीमच, खण्डवा, खरगौन, देवास, गुना, उज्जैन, शिवपुरी, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, दतिया, अशोकनगर, बड़वानी, होशंगाबाद, भोपाल, झाबुआ, हरदा, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा, डिण्डोरी, मण्डला, सागर, धार और सतना में पक्षियों में एच5एन8 वायरस की पुष्टि हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here