मेलबर्न टेस्ट के तीसरे दिन 15 विकेट गिरे जिसमें टीम इंडिया की दूसरी पारी के 5 विकेट भी शामिल रहे. 

मेलबर्न:  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज के तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन का खेल रोमांचक हो गया जब पहले दो दिनों में केवल 7 विकेट गिरने के बाद तीसरे दिन 15 विकेट गिर गए. पहले टीम इंडिया ने बेहतरीन गेंदबाजी कर ऑस्ट्रेलिया को 151 रनों पर समेट दिया और उसके बाद टीम इंडिया की पारी भी लड़खड़ा गई जिससे 27 ओवरों में केवल 54 रन बनाते हुए उसके 5 विकेट गिर गए.

तीसरा दिन भारत के लिए अगर जसप्रीत बुमराह के नाम रहा तो ऑस्ट्रेलिया का लिए पैट कमिंस के नाम रहा. मैच पर टीम इंडिया की मजबूत पकड़ तब हुई जब जसप्रीत बुमराह की अगुआई में टीम इंडिया के गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को 66.5 ओवरों में ही महज 151 रनों पर समेट दिया. इससे टीम इंडिया को पहली पारी में 292 रनों की बढ़त मिल गई. इसके बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर चौंकाते हुए, मजबूत स्थिति होने के बाद भी. मेजबान टीम को फॉलोऑन नहीं खिलाया और दूसरी पारी की शुरुआत खुद ही करने का फैसला लिया.

दूसरी पारी चरमराई टीम इंडिया की
टीम इंडिया की दूसरी पारी जब शुरू हुई तब पहले तो हनुमा विहारी और मंयक ने 12 ओवर तक अपने विकेट बचाए और बोर्ड पर मिलकर 28 रन भी बना दिए. इस स्कोर पर 13वें ओवर में विहारी पहली पारी की ही तरह एक बार फिर पैट कमिंस की बाउंसर के शिकार बने. इसके बाद तो विकेटों की झड़ी लग गई. नतीजा यह हुआ कि चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली तो शून्य पर चलते बने और अजिंक्य रहाणे भी केवल एक रन बनाकर आउट हो गए. ये चारों विकेट पैट कमिंस ने लिए. इसके बाद रोहित शर्मा भी 5 रन बनाकर 44 के स्कोर पर हेडलवुड की गेंद पर आउट हो गए. नतीजा यह रहा कि दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया के 54 रन पर पांच विकेट गिर चुके थे.

फॉलोऑन नहीं खिलाया विराट ने ऑस्ट्रेलिया को
टीम इंडिया की बल्लेबाजी का चरमराना मैच में बहुत ज्यादा फर्क डाल दे इसकी संभावना कम ही है. पहली पारी में 292 रन की बढ़त के बाद अब टीम के पास 346 रनों की बड़ी बढ़त हो गई है. अगर विराट कोहली अभी पारी घोषित भी कर देते हैं तो भी विकेट और भारतीय गेंदबाजी को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया के लिए यह लक्ष्य हासिल करना बहुत मुश्किल होगा. टीम इंडिया की 292 की बढ़त देखते हुए कई लोगों को हैरानी हुई कि जब अगले दो दिन में बारिश होने की संभावनाएं जताई जा रहीं हों तो ऐसे में विराट ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन क्यों नहीं खिलाया.

ये वजह हो सकतीं हैं इस फैसले के पीछे
विराट के इस फैसले के पीछे एक सबसे बड़ी वजह यही दिखती है कि वे किसी भी हालत में चेस करने के मूड में नहीं होगे. अगर ऑस्ट्रेलिया फॉलोऑन खेलकर पूरे चौथे दिन बल्लेबाजी कर जाती और किसी तरह से 100 रन का लक्ष्य भी देती तो ऐसे में टीम इंडिया का अभी स्कोर मुसीबत बन जाता. दरअसल विराट भी टीम इंडिया के रिकॉर्ड को देखते हुए चेज करने का जोखिम लेना नहीं चाहते हैं. विराट जानते हैं टीम इंडिया पांच- विकेट गंवाने के बाद 30-40 रन भी बनाना मुश्किल हो जाए तो हैरानी की बात नहीं होगी.

बहरहाल, जो भी हो टीम इंडिया की दूसरी पारी में हुए बुरे हाल के बाद भी टीम की स्थिति बहुत मजबूत है. अब इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को तो केवल बारिश ही बचा सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here