भोपाल : नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सीएम शिवराज के रथ पर पथराव के गवाह को भोपाल में मीडिया के सामने पेश कर दिया. उस गवाह ने कहा पुलिस ने सारी कहानी झूठी गवाही पर रची. सीधी ज़िले के चुरहट में 2 सितंबर को सीएम शिवराज सिंह के जन आशीर्वाद यात्रा के रथ पर हमला हुआ था. आरोप लगा नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह और उनके समर्थकों पर. प्रदेश के गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने तो कहा ये मुख्यमंत्री की हत्या की साज़िश थी. शनिवार को भोपाल में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने उस मामले में गवाह बनाए गए युवक संदीप चतुर्वेदी को मीडिया के सामने पेश किया. उन्होंने दावा किया कि पुलिस ने पूरी कहानी झूठी गवाही के दम पर रची है. संदीप चतुर्वेदी ने पूरे मीडिया के सामने कहा कि पुलिस ने उसके ऊपर दबाव बनाकर गलत बयान दिलवाए. संदीप चुरहट में बीजेपी मंडल अध्यक्ष मनोज सिंह चौहान के पेट्रोल पंप पर काम करता है. 2 सितंबर को जिस दिन ये घटना हुई वो सीएम की जन आशीर्वाद यात्रा देखने के लिए खड़ा था. रथ पर जब पत्थर फेंकने की घटना हुई तो पुलिस ने देर रात उसे हिरासत में लेकर डराया धमकाया और जिन लोगों ने सीएम के रथ पर हमला किया उन्हें पहचानने के लिए कहा. बाद में किसी तरह संदीप, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के पास पहुंचा और पूरे मामले की हक़ीक़त बताई. अब नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने संदीप के बयानों के आधार पर सीएम शिवराज सिंह चौहान से मामले की न्यायिक जांच की मांग की है. अजय सिंह का कहना है इस तरह के षडयंत्र करके उनकी राजनैतिक हत्या की साज़िश रची जा रही है. चुरहट में 2 सितंबर को जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान सीएम के रथ पर पत्थर फेंके गए थे. बीजेपी ने इसके लिए सीधे तौर पर नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह पर उंगली उठायी और उन्हें इस घटना का साज़िशकर्ता कहा था. गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने तो यहां तक कह दिया था कि सीएम की हत्या की साजिश रची गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here