भोपाल. मालवीय नगर स्थित पत्रकार भवन पर नगर निगम का बुल्डोजर चला है। कोर्ट के आदेश के बाद सोमवार को जिला प्रशासन और नगर निगम ने भवन को जमींदोज कर दिया। मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है। जिला प्रशासन और नगर निगम के अफसरों के मुताबिक पत्रकार भवन की लीज रिन्यूअल की रिव्यू पिटीशन खारिज होने के बाद सरकार ने इमारत को गिराने का निर्देश दिया था। 1969 में पत्रकार भवन का निर्माण किया गया था। मामले को लेकर मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि कोर्ट ने पत्रकार समितियों की अपील खारिज कर दी थी। इसके बाद यह कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि पत्रकार भवन जर्जर हो गया था। अब पत्रकारों के लिए सर्व सुविधा युक्त भवन बनाया जाएगा। जिला प्रशासन के अफसरों ने शनिवार को श्रमजीवी पत्रकार संघ के दफ्तर को सील कर दिया था। इसकी वजह प्रशासन ने हाईकोर्ट में लीज को लेकर दायर की गई श्रमजीवी पत्रकार संघ की रिव्यू पिटीशन खारिज होना बताई थी। इधर, संघ का आरोप है कि श्रमजीवी पत्रकार संघ के दफ्तर को सील किया गया है। जबकि उस पर हाईकोर्ट का स्टे है। प्रशासन ने दफ्तर सील करने के बाद इसे जनसंपर्क विभाग को सौंप दिया है। श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेशध्यक्ष शलभ भदौरिया ने बताया कि पत्रकार भवन की लीज का केस हाईकोर्ट में चल रहा था, उसे खारिज कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here