मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हनुमानगंज थानांतर्गत एक व्यस्त मार्ग पर लोगों ने 10 वर्षीय एक बच्चे को सड़क पार करने में मदद कर रहे तीन लोगों को बच्चा चोर होने के शक में कथित तौर पर जमकर पिटाई कर दी. 

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हनुमानगंज थानांतर्गत एक व्यस्त मार्ग पर लोगों ने 10 वर्षीय एक बच्चे को सड़क पार करने में मदद कर रहे तीन लोगों को बच्चा चोर होने के शक में कथित तौर पर जमकर पिटाई कर दी. हनुमानगंज पुलिस थाने के इंस्पेक्टर सुदेश तिवारी ने बताया कि बच्चा चोर के शक में 12-15 लोगों ने कल शाम फूटा मकबरा के पास धन सिंह, रामस्वरूप सेन एवं दशरथ अहिरवार की जमकर पिटाई कर दी. जैसे ही पुलिस को इसकी जानकारी मिली, पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए इन तीनों को इन लोगों से छुड़ाया.

उन्होंने कहा कि भीड़ द्वारा पीटे गये ये तीनों व्यक्ति शराब पिये हुए थे और इलाके में घूम रहे थे. इसी बीच, फूटा मकबरा के पास उन्हें लगा कि बहुत सारे वाहनों की आवाजाही के डर से 10 साल का बच्चा सड़क पार नहीं कर पा रहा है. इसलिए वे उसे सड़क पार करवाने लगे. तिवारी ने बताया कि वहां मौजूद कुछ लोगों ने इन तीनों को लड़खड़ाते देखा और उनमें से किसी ने कह दिया कि ये बच्चा चोर हैं.

यह सुनते ही वहां से गुजर रहे लोग इन तीनों पर टूट पड़े और उनकी जमकर पिटाई कर दी. उन्होंने कहा कि इसी बीच हमें इसकी सूचना मिली. पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें भीड़ से छुड़ाया. तिवारी ने बताया कि तीनों पीड़ित विदिशा जिले के रहने वाले हैं और आटोरिक्शा के पार्ट्स खरीदने भोपाल आये थे.

उन्होंने कहा कि तीनों की मेडिकल जांच की गई, जिसमें पाया गया कि वे शराब पिये हुए थे. इनमें से किसी को भी गंभीर चोट नहीं आई है. संभवत: आज वे वापस अपने घर चले जाएंगे. गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले के मोरवा पुलिस थानांतर्गत भीड़ ने बच्चा उठाने वाले के शक पर मानसिक रूप से विक्षिप्त एक महिला की 19 जुलाई को कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी और बाद में उसके शव को नाले में फेंक दिया था. इस मामले में 12 लोगों को जेल भेज गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here