महू (इंदौर). महू में पांच साल की मासूम से दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज जांचने पर पुलिस को एक संदिग्ध व्यक्ति जाते हुए दिखाई दिया था। पुलिस जांच में यह भी सामने आया है कि घटना वाली रात बच्ची के पिता ने एक युवक के साथ शराब पी थी और नॉनवेज खाया था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म के बाद गला घोंटकर हत्या करना सामने आया। बच्ची के गला, हाथ और जांघों पर चोट के निशान हैं। कोतवाली थाना प्रभारी अभय नेमा ने बताया कि जांच के लिए पांच टीमें लगाई है।
बच्ची की हत्या कर दूसरे कमरे में फेंका था
कोतवाली थाना प्रभारी अभय नेमा ने बताया कि सोमवार सुबह जब पुलिस मौके पर पहुंची तो बच्ची के कपड़े नहीं थे। खंडहरनुमा इमारत के एक कमरे में संदिग्ध कपड़े और दूसरे में बच्ची का शव पड़ा था। पुलिस को अंदेशा है कि जहां कपड़े मिले वहां बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया। इसके बाद मारकर दूसरे कमरे में फेंका गया।
बच्ची के पिता ने अमित के साथ पार्टी की थी
पुलिस सूत्रों के अनुसार, बच्ची के पिता ने रात में अमित नामक युवक के साथ नाॅनवेज बनाकर खाया था। शराब भी पी थी। जब पुलिस ने बच्ची के पिता से पूछताछ की, तो उसने कबूला कि दोनों ने सिमरोल रोड आरओबी के पास नाॅनवेज बनाकर खाया था। पुलिस को चक्कीवाले महादेव मंदिर के पास से सीसीटीवी फुटेज मिले हैं। पुलिस ने बताया कि फुटेज में रात 2.15 बजे नीले रंग के कपड़े में एक युवक बच्ची जहां परिवार के साथ सो रही थी, उस दिशा में जाता दिख रहा है। जब उसके पीछे कुत्ते आए तो युवक ने पत्थर मारकर भगाया। 10 मिनट बाद ही रात 2.26 बजे युवक भागते नजर आ रहा था। पुलिस इस युवक की तलाश भी कर रही है। वहीं, अमित ने किस रंग के कपड़े पहने थे, उसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है।
आरओबी के बाेगदों में कब्जे, खाली में असामाजिक तत्व का डेरा
घटनास्थल के पास सिमरोल आरओबी के नीचे खाली बोगदों में से कुछ में अतिक्रमण और कब्जे हो गए हैं, जो खाली बोगदे हैं वहां पर असामाजिक तत्वों का डेरा रहता है। रात को इन बोगदों में ये नशा और शराबखोरी करते हैं। बोगदे में मप्र शासन ने देशी कलाली और अहाता भी संचालित किया है, जिससे यहां पर बड़ी संख्या में शराबियों की भी आवाजाही लगी रहती है। लोगों का कहना है कि जब से यहां शराब का ठेका चालू हुआ है, इसके बाद से यहां पर असामाजिक गतिविधियां बढ़ी हैं। यहां पर अस्थाई रूप से रहने वालों के न तो पुलिस के पास रिकाॅर्ड हैं, न ही केंटबोर्ड को इनकी जानकारी है।
यह है मामला
रविवार को चक्कीवाले महादेव मंदिर के बाहर सड़क किनारे 5 साल की बच्ची माता-पिता के साथ सो रही थी। देर रात अचानक गायब हो गई थी। दूसरे दिन सोमवार को उसका शव 200 मीटर दूर शराब गोदाम के पास बंगला नंबर-122 के खंडरनुमा कमरे में मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here