भोपाल: कमलनाथ सरकार के बेहद शांत और सौम्य स्वभाव के माने जाने वाले जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा सोमवार को आपा खो बैठे। गुस्से में उन्होंने अपनी ही पार्टी के पदाधिकारी को ऊंची आवाज में अपनी समस्या रखने पर डांट कर भगा दिया। इसके साथ ही उसे जेल में बंद करने तक की धमकी दे डाली। दरअसल, जिले के प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा जिला योजना समिति की बैठक में शामिल होने के लिए सोमवार को हरदा पहुंचे। इसी दौरान कार्यकर्ताओं से बातचीत करते वक्त किसान खेत मजदूर कांग्रेस के प्रदेश महासचिव शैलेंद्र वर्मा ने मंत्री पीसी शर्मा को कुछ फोटो दिखाते हुए कहा कि जिन्हें आप मिठाई खिला रहे हैं वह मुझे परेशान कर रहे हैं और कांग्रेस के गुंडे हैं। अपनी पार्टी के कार्यकर्ता के इस व्यवहार के चलते कमलनाथ सरकार के वरिष्ठ मंत्री पीसी शर्मा बेहद नाराज हो गए और तमाम कार्यकर्ताओं के सामने शैलेंद्र वर्मा को गुस्से में आकर वहां से बाहर कर दिया। जाहिर है कि सैकड़ों लोगों के सामने हुई बेइज्जती के चलते शैलेंद्र वर्मा आपा खो बैठे और अपनी सरकार तथा मंत्री के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। मंत्री के सामने हुए इस घटनाक्रम के बाद पुलिस शैलेंद्र को थाने ले गई। हालांकि, देर शाम उन्होंने पीसी शर्मा से माफी भी मांग ली। बताया जा रहा है कि कांग्रेस नेता शैलेंद्र वर्मा पिछले 30 सालों से एक किराए के मकान में रह रहे हैं। लेकिन, मकान मालिक ने उन्हें बेदखली का नोटिस दिया है। इसी नोटिस को रद्द कराने के लिए पीसी शर्मा के पास पहुंचे थे। उनके पास जो फोटो थे उसी मकान मालिक के थे, जिसमें मंत्री जी मकान मालिक को मिठाई खिलाते नजर आ रहे थे। हालांकि, कार्यकर्ता की नाराजगी के बाद मंत्री ने उनकी शिकायत पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here