दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के घूर नक्सल प्रभावित बस्तर जिले में शनिवार को रोड ओपनिंग पार्टी पर घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने हमला कर दिया। यहां नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया और उसके बाद दूसरी ओर से फायरिंग शुरू कर दी। इस गोलीबारी में छत्तीसगढ़ आर्म फोर्स के दो जवान शहीद हो गए। बताया जा रहा है कि यह जवान क्षेत्र में निर्मांणाधीन सड़क की सुरक्षा पर तैनात किए गए थे। यह घटना मारदुम थाना क्षेत्र में बोदली कैंप के साथ घटित हुई है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि रोड ओपनिंग पार्टी क्षेत्र में गस्त के लिए निकली थी। बोदली कैंप के आस-पास सड़क निर्मांण का काम भी चल रहा है। यह सड़क लगातार नक्सलियों के निशाने पर बनी हुई है। इसी सड़क की सुरक्षा में आर्म फोर्स के जवानों को तैनात किया गया था। दोपहर करीब तीन बजे एक लैंड माइन विष्फोट हुआ। उस समय वहां सीआरपीएफ के कुछ जवान मौजूद थे, जिन्हें चोटें आईं। इस घटना के तुरंत बाद आईईडी विष्फोट स्थल से करीब 7 किलोमीटर रोड ओपनिंग पार्टी पर घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने हमला कर दिया। नक्सलियों की ओर से अचानक हुए इस हमले में आर्म फोर्स के दो जवान शहीद हो गए। दोनों ही हेड कांस्टेबल के पद पर कार्यरत थे। इस घटना में नक्सलियों ने जवान की एक एके 47 और दो नग हैंडसेट भी लूट लिए। दूसरी तरफ इन्द्रावती नदी पार नक्सली कैम्प पर सुरक्षा बलों ने मारडूम थाना क्षेत्र में विंगपाल के जंगलों में नक्सलीयांे के कैंप पर हमला किया। डीआरजी और सीआरपीएफ 195 बटालियन के जवानों ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। लगातार गोलीबारी के बाद नक्सली पहाड़ का आड़ लेकर भाग गए। घटना स्थल से भारी तादात में नक्सली सामग्री बरामद की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here