बीजिंग : चीन में कोरोना के मामलों में तेजी लौट आई है। यहां कोविड​​​​-19 के डेल्टा वेरिएंट के मामलों में अचानक वृद्धि देखी जा रही है। चीन की राजधानी बीजिंग सहित 15 शहर संक्रमण के मामलों से जूझ रहे हैं। सरकारी मीडिया ने इसे दिसंबर 2019 में वुहान में वायरस के प्रकोप के बाद सबसे व्यापक घरेलू रोग संचार करार दिया है। ग्लोबल टाइम्स ने बताया कि कोविड-19 मामलों में नयी बढ़ोतरी पूर्वी चीन के जिआंगसु प्रांत की राजधानी नानजिंग के एक हवाई अड्डे से शुरू हुई और पांच अन्य प्रांतों और बीजिंग नगरपालिका में फैल गई है। इसने कहा कि नानजिंग शहर ने कई हवाईअड्डों के कर्मचारियों के संक्रमित पाये जाने के बाद सभी उड़ानों को निलंबित कर दिया है। तेजी से फैलने वाले डेल्टा वेरिएंट के मामले 15 चीनी शहरों से सामने आए हैं। डेल्टा वेरिएंट की सबसे पहले पहचान भारत में हुई थी। हालांकि नये मामलों की संख्या अभी भी कुछ सैकड़ों में है, लेकिन विभिन्न प्रांतों में संक्रमण के व्यापक प्रसार की चिंताएं बढ़ गई हैं। अधिकारियों के लिए चिंता का कारण बीजिंग में पिछली बार मामले सामने आने के 175 दिनों से अधिक समय के बाद मामलों का अचानक सामने आना है। लगभग 2.2 करोड़ की आबादी वाले शहर की स्थानीय सरकार ने एक जुलाई को आयोजित होने वाले चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) के शताब्दी समारोह के लिए कई महीनों तक शहर का कोविड-19 से बचाव किया। यहां राष्ट्रपति शी जिनपिंग सहित वरिष्ठ नेताओं के आवास स्थित हैं। चीन द्वारा भारत और कई अन्य देशों से हवाई यात्रा अभी शुरू किया जाना बाकी है और बीजिंग आने वाली अधिकांश अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अन्य शहरों में भेजा जाता है, जहां यात्रियों को राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने से पहले 21 दिनों के पृथकवास से गुजरना पड़ता था। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, बृहस्पतिवार तक की स्थिति के अनुसार चीन के मुख्य भूभाग में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की कुल संख्या 92,875 थी। इसमें 932 उपचाराधीन मरीज शामिल हैं, जिनमें से 25 की हालत गंभीर है। देश में पिछले साल से अब तक इस वायरस ने 4,636 लोगों की जान ले ली है। आधिकारिक मीडिया के अनुसार, चीन ने अब तक अपनी लगभग 40 प्रतिशत आबादी का वैक्सीनेशन किया है। कोरोना वायरस का पहली बार 2019 के अंत में मध्य चीनी शहर वुहान में पता चला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here