नई दिल्ली। देश में सितंबर महीने में थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) महंगाई दर बढक़र 5.13 फीसदी हो गई है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने सोमवार को आंकड़े जारी करते हुए बताया कि अगस्त में थोक महंगाई 4.53 फीसदी थी। अगस्त में महंगाई दर 10 महीने की न्यूनतम स्तर पर हुई थी लेकिन घटने के बाद एक बार फिर महंगाई सूरसा के मूंह की तरह खुल गई है। जुलाई में थोक महंगाई दर 5.09 फीसदी थी। महंगाई दर में बढ़ोतरी के लिए तेल की कीमतों में लगातार हुई वृद्धि को ही जिम्मेदार माना जा रहा है। सितंबर में खुदरा महंगाई दर में भी अगस्त के मुकाबले इजाफा हो गया है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, खुदरा महंगाई दर सितंबर में 3.77 फीसदी दर्ज की गई, जबकि अगस्त में 3.69 फीसदी थी। सालाना उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) में सितंबर 2018 में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले वृद्धि दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here