राम मंदिर निर्माण को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने इसके लिए दो रास्ते बताए हैं. उन्होंने कहा कि लोग खुद मंदिर का निर्माण शुरू कर दें, जो अच्छा नहीं होगा. इससे सामाजिक संघर्ष हो सकता है.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव ने बड़ा बयान दिया है. बाबा रामदेव ने राम मंदिर निर्माण के दो रास्ते बताए हैं. उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण दो तरीके से किया जा सकता है. पहला तो यह कि लोग खुद मंदिर का निर्माण शुरू कर दें, जो अच्छा नहीं होगा. इससे सामाजिक संघर्ष हो सकता है. अहमदाबाद और वडोदरा में ‘पतंजलि परिधान’ का स्टोर लॉन्च करने पहुंचे बाबा रामदेव ने दूसरा तरीका बताते हुए कहा कि मंदिर निर्माण के लिए संसद में अध्यादेश लाना चाहिए. यह सांप्रदायिक सद्भावना के लिए अच्छा होगा और भगवान राम की ओर हमारा सच्चा आभार भी होगा.

बता दें कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मामला एक बार फिर गरमा गया है. योग बाबा रामदेव लगातार मंदिर निर्माण को लेकर अपनी बात रख रहे हैं. इससे पहले भी वह कह चुके हैं सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाए.

रामदेव के मुताबिक 2019 से पहले ही राम मंदिर बन सकता है और किसी भी पार्टी को इस पर एतराज नहीं होगा. अगर संसद में अध्यादेश लाया जाए तो सब पार्टियां इसके साथ खड़ी होंगी क्योंकि यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है.

बता दें कि बाबा रामदेव ने पिछले ही महीने गारमेंट्स इंडस्ट्री में कदम रखा. ‘पतंजलि परिधान’ का पहला स्टोर दिल्ली के नेताजी सुभाष प्लेस में खुला. धनतेरस के खास मौके पर पतंजलि ने अपने गारमेंट्स बिजनेस की शुरुआत की. ‘पतंजलि परिधान’ शोरूम में 3 हजार नए प्रॉडक्ट बिकेंगे. इनमें भारतीय कपड़ों से लेकर वेस्टर्न कपड़े, एक्सेसरीज और गहनों तक की बिक्री होगी.

मंदिर नहीं बना तो देश में साम्प्रदयिक माहौल गर्माएगा’

बाबा रामदेव राम मंदिर निर्माण के लिए लगातार सरकार पर दबाव बना रहे हैं.  इससे पहले उन्होंने कहा था कि देश की जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुए सरकार इस पर कुछ ना कुछ कदम जरूर उठाएगी और भव्य राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करेगी.

योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि राम मंदिर नहीं बना तो देश में साम्प्रदयिक माहौल गर्माएगा और उससे सामाजिक वैमनस्य पैदा होगा. बाबा ने कहा कि इससे से देश को नुकसान होने की आशंका है. बाबा ने कहा कि राम मंदिर के मसले पर हमें अभी नहीं तो कभी नहीं के कॉन्सेप्ट पर काम करना होगा.

बाबा रामदेव ने कहा कि ये मामला समझौते का दौर निकल चुका है, अब संसद में कानून लाओ और मंदिर बनाओ और अभी नहीं तो कभी नहीं के प्रावधान पर ही हमें काम करना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here