भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। पहले दो टेस्ट मैचों में मिली शिकस्त के बाद भारत यह सीरीज गंवा चुका है। वहीं एक तरफ भारतीय क्रिकेट टीम शीर्ष पर पहुंचने के लिए भारी संघर्ष कर रही है, तो वहीं दूसरी तरफ टीम के कप्तान विराट कोहली कई रिकॉर्ड तोड़कर खुद को ऊपर तक पहुंचाने में कामयाब रहे हैं। विराट कोहली पूर्व कप्तान राहुल द्रविड का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का फिफ्टी प्लस स्कोर पार कर चुके हैं। कोहली ने यह कामयाबी जोहनसबर्ग में खेले गए टेस्ट की पहली पारी में हासिल की थी। अब कोहली के नाम पर भारतीय टीम के कप्तान के तौर पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 42 अर्धशतक हैं।

इसमें सबसे खास बात तो यह है कि इस सूची में सबसे शीर्ष स्थान प्राप्त करने के लिए विराट कुछ ही दूरी पर हैं। टेस्ट क्रिकेट में एक कप्तान के तौर पर राहुल द्रविड के नाम 41 अर्धशतक, मोहम्मद अजहरुद्दीन और सौरव गांगुली के नाम 59 अर्धशतक हैं। इस सूची में विराट अभी पीछे हैं। उन्होंने राहुल द्रविड का स्कोर तो तोड़ दिया है लेकिन अभी उन्हें सौरव गांगुली और मोहम्मद अजहरुद्दीन का रिकॉर्ड तोड़ना बाकी है। इतना ही नहीं इन पूर्व खिलाड़ियो के अलावा उन्हें पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का भी रिकॉर्ड तोड़ना पड़ेगा जिन्होंने अपनी कप्तानी में 82 अर्धशतक लगाए हैं।

वैसे विराट कोहली का नाम केवल राहुल द्रविड का रिकॉर्ड तोड़ने वाले खिलाड़ी के तौर पर ही दर्ज नहीं है बल्कि वे एशिया के पहले कप्तान बन गए हैं जिन्होंने साउथ अफ्रीका में खेली गई टेस्ट सीरीज में दो और उससे ज्यादा फिफ्टी प्लस स्कोर बनाया है। इसके अलावा विराट कोहली एशिया के ऐसे दूसरे कप्तान बन चुके हैं जिन्होंने साउथ अफ्रीका में खेली गई टेस्ट सीरीज में 200 से ज्यादा रनों को स्कोर बनाया है। इस सूची में सबसे शीर्ष स्थान पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का नाम है, जिन्होंने 1996 में करके दिखाया था। एक कप्तान के तौर पर विराट कोहली ने अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here