भोपाल। मुख्यमंत्री श‍िवराज स‍िंंह चौहान ने कहा कि राज्‍य में प्रदेशव्यापी लॉकडाउन नहीं लगेगा। आर्थिक गतिविधियां चालू रहेंगी, ताकि लोगों की रोजी-रोटी प्रभावित न हो! आज राज्यपाल महोदया श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। कोविड-19 की संक्रमण की स्थितियों पर विचार होगा। सभी राजनैतिक दलों को वर्चुअली आमंत्रित किया गया है। ये कोरोना संक्रमण से निपटने की लड़ाई जनता के सहयोग के बिना नहीं लड़ी जा सकती है। सीएम श‍िवराज ने कहा मैं यह मानता हूं कि लॉकडाउन समस्या का समाधान नहीं है। मध्यप्रदेश में कहीं भी लॉकडाउन नहीं है। न पूरे प्रदेश में लॉकडाउन लगाया जायेगा, क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने जनता से चर्चा करके कुछ स्थानों पर कुछ गतिविधियों पर रोक लगाई है। उन्‍होंने कहा क‍ि प्रदेशव्यापी लॉकडाउन नहीं लगेगा। आर्थिक गतिविधियां चालू रहेंगी, ताकि लोगों की रोजी-रोटी प्रभावित न हो! सीएम श‍िवराज ने कहा क‍ि जनता के सक्रिय सहयोग से और व्यवस्थाएं बनाकर हम इस बीमारी से लड़ रहे हैं और विश्वास है कि हम जल्द ही इस पर काबू पायेंगे। कोरोना के संक्रमण की स्थितियों पर बैठक में विचार होगा सभी राजनीतिक दलों को वर्चुअली आमंत्रित किया गया है। यह कोरोना संक्रमण से निपटने की लड़ाई जनता के सहयोग के बिना नहीं लड़ी जा सकती, सरकार व्यवस्थाएं बना रही है, अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या लगातार बढ़ रही है। भोपाल में हमीदिया में 250 बिस्तर बढ़ रहे हैं, आरकेडीएफ भी अपने अस्पताल में कोरोना के बिस्तर प्रारंभ करेंगे और बाकी अस्पतालों से भी अलग-अलग जगह चर्चा चल रही है, इंदौर में भी चर्चा चल रही है बेड लगातार बढ़ रहे हैं। उन्‍होंने कहा ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है,ऑक्सीजन की जितनी आवश्यकता है उससे ज्यादा अभी आपूर्ति है।व्यवस्थाओं में कोई कमी नहीं छोड़ेंगे लेकिन जनता का स्वतः स्फूर्त सहयोग आवश्यक है। संक्रमण बढ़ने से अगर रोकना है तो स्वयं को जागरूक रहना होगा। मास्क, 2 गज की दूरी स्वच्छता और टीकाकरण : उन्‍होंने कहा आज टीका उत्सव प्रारंभ हुआ है, पूरे प्रदेश में पूरी ताकत से हम टीका उत्सव कार्यक्रम मना रहे हैं, मतलब टीकाकरण कर रहे हैं। हमारी कोशिश होगी कि जल्द ही वैक्सीन लगाकर हम संक्रमण की संभावनाओं को कम करते जाएं और या हो भी तो सुरक्षित रहें हमारे लोग इसमें केंद्र सरकार का भरपूर सहयोग मिल रहा है।मैं यह मानता हूं लॉकडाउन समस्या का समाधान नहीं है और मध्य प्रदेश में कहीं भी लॉकडाउन नहीं है, ना पूरे प्रदेश में लॉकडाउन लगाया जाएगा। उन्‍होंने कहा क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप में कुछ जगह जनता से चर्चा करके स्वतः स्फूर्त यह कहा कि संक्रमण की चैन ब्रेक करने के लिए हम घरों में रहेंगे और कुछ गतिविधियां नहीं करेंगे। स्थानीय स्तर पर जिन नज़रों ने तय किया है वह कोरोना कर्फ्यू है, वह लॉकडाउन नहीं है और कई गतिविधियों की उसमें छूट है। अन्य राज्य से आवागमन हो, मेडिकल की दुकानें हों, राशन की दुकानें हो, अस्पताल हो, नर्सिंग होम बैंक, एटीएम,दूध, सब्जी की दुकानें, उद्योगों में मजदूर, माल आदि का आवागमन।उद्योग चलते रहेंगे,परीक्षा केंद्रों में जाने वाले विद्यार्थी अन्य स्टाफ एंबुलेंस, फायर बिग्रेड, दूरसंचार,बिजली प्रदाय रसोई गैस सेवाएं, टीकाकरण जारी रहेगााा।। टीकाकरण पूरी ताकत से चलेगा। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन एयरपोर्ट से आने जाने वाले नागरिक, आईटी कंपनियां बीपीओ, मोबाइल कंपनियों की यूनिट्स, अखबार वितरण, होटल जिनमें रूम इन डाइनिंग व्यवस्थाएं हैं। श‍िवराज के अनुसार वैसा लॉकडाउन नहीं है कि सब ठप्प, यह लॉकडाउन नहीं है यह कोरोना कर्फ्यू स्वतः स्फूर्त जनता ने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से कहा और उन्होंने फैसला फैसला किया कि कुछ दिन भीड़ वाली गतिविधियां बंद रखेंगे। प्रदेश व्यापी लॉकडाउन नहीं लगेगा आर्थिक गतिविधियां चालू रहनी चाहिए ताकि लोगों की रोजी-रोटी प्रभावित ना हो, लेकिन उतना ही महत्वपूर्ण है की जनता स्वयं ना निकले और यह फैसला करती है कि हमको भीड़ पर नियंत्रण करना है, इस संक्रमण की चैन रोकने के लिए बहुत उपयोगी होगा कुछ नगरों ने कोरोना कर्फ्यू का फैसला किया है,जनता के के सहयोग से और व्यवस्थाएं बनाकर हम इस बीमारी से लड़ रहे हैं और विश्वास है जल्द ही इस पर काबू पाएंगे। श‍िवराज ने बताया क‍ि आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इसमें कोव‍िड संक्रमण की स्थितियों पर विचार होगा। सभी राजनैतिक दलों को वर्चुअली आमंत्रित किया गया है। उन्‍होंने कहा क‍ि कोरोना संक्रमण से निपटने की लड़ाई जनता के सहयोग के बिना नहीं लड़ी जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here