भोपाल : देश में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या केंद्र सरकार के साथ राज्य सरकारों के लिए भी चिंता का विषय बनी हुई है। राज्य सरकारें संक्रमितों की बढ़ती संख्या को रोकने के लिए अब लॉकडाउन लगाना शुरू कर दी है। इसी कड़ी में आज मध्यप्रदेश की राजधानी में कर्फ्यू लगा दिया गया है। यह जानकारी मध्य प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग ने दी। राज्य मंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश की राजधानी में जिस तरह से संक्रमितों के मामले बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए भोपाल में कोरोना कर्फ्यू लागू करने का निर्णय लिया गया है। 13 अप्रैल से 19 अप्रैल की सुबह छह बजे तक के लिए कर्फ्यू लगाया जाएगा। मंत्री ने बताया कि कर्फ्यू के दौरान रोजमर्रा के चीजों की गतिविधियां जारी रहेंगी। इसमें अन्य राज्यों और जिलों में सामाग्री और सेवाओं का आवागमन, अस्पताल, मेडिकल, स्वास्थ्य और चिकित्सा सेवाएं, केमिस्ट, नर्सिंग होम, किराना दुकान, पेट्रोल पंप, ATM, बैंक, होम डिलीवरी, दूध और सब्जी की दुकानों को छूट रहेगी। वहीं राज्य के मुख्यमंत्री ने आज बताया था कि ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदने के ऑर्डर दिए गए हैं। राज्य की जनता से अपील है कि शहर में लॉकडाउन लगावाने के बजाय मास्क से चेहरा लॉक कर लें और पैर भी लॉक कर ले। घर से अनावश्यक बाहर न निकलें। कोरोना की स्थिति को देखकर ही बोर्ड परीक्षा के तारीखों की घोषणा की जाएगी। बता दें कि रविवार को मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक राज्य में पिछले 24 घंटों में 5,939 नए कोविड मामले के आए थे। इस दौरान 3,306 लोग ठीक भी हुए थे। वहीं 24 लोगों की मौत भी हुई थी।
…….कर्फ्यू में इन्हें रहेगी इजाजत..
किराना दुकानों से होम डिलीवरी
दूध, सब्जी और फलों की दुकानें
पेट्रोल पंप, बैंक, ATM, गैस एजेंसी
अस्पताल और मेडिकल स्टोर्स
मेडिकल स्टाफ, फैक्ट्री मजदूर
वैक्सीन लगवाने के लिए निकले लोग
परीक्षा केंद्र आने-जाने वाले स्टूडेंट्स
बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट आने-जाने वाले यात्री
खेती के काम से आने-जाने वाले किसान
होम सर्विस के लिए इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कारपेंटर
कंस्ट्रक्शन एक्टिविटीज (अगर मजदूर साइट पर रहते हैं)
……कर्फ्यू के दौरान इन पर पाबंदी..
मंदिर समेत सभी धार्मिक स्थल
जुलूस और सार्वजनिक कार्यक्रम
रेस्टोरेंट्स, दुकानें और बाजार
देशी और विदेशी शराब की दुकानें
जरूरी सेवाओं को छोड़कर ऑफिस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here